तीन दिन बाद भी सुस्त हसन गंज पुलिस पीड़ित परेशान......
रज़िया बानो की रिपोर्ट....


लखनऊ........

केजीएमयू टी जी नर्सेज हॉस्टल में शनिवार को हुई लाखो की चोरी मामले में हसनगंज पुलिस ने सिवाय एफआईआर दर्ज करने के दूसरा कोई ठोस कदम नही उठाया अगर पुलिस ने इस मामले में सक्रियता दिखाई होती तो पीड़ित पक्ष को न्याय मिल चुका होता और तो और हसनगंज पुलिस सिवाय घटना के दिन के बाद पीड़ित से किसी तरह का संपर्क साधने में भी गुरेज करती दिखाई दी जिसका मलाल खुद पीड़ित पक्ष को है।पीड़िता ने हमसे बताया कि पुलिस ने एक बार भी उनसे ये तक नही पूछा कि क्या आपको किसी पर संदेह है जो ऐसा काम कर सकता है क्योंकि जिस तरह से चोरी को अंजाम दिया गया है उससे यही लगता है कि बिना जानकार की मदद के ऐसी घटना को अंजाम दे पाना नामुमकिन था।


 

आपको बता दें कि थाना हसनगंज स्थित टी जी नर्सेज हॉस्टल के रूम नम्बर 201 से एक लाख नकद और सोना चांदी शनिवार के दिन 27 अप्रैल को दिन दहाड़े चोरी कर लिया गया जिसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी गई लेकिन घटना के तीन दिन बाद भी हसन गंज पुलिस अभी भी चोर को पकड़ने में नाकाम ही रही है।

हालांकि इस पूरे मामले में हसनगंज पुलिस का कहना है कि उनकी तफ्तीश जारी है मुखबिर से भी इस मामले में पूरी मदद ली जा रही है ताकि जल्दी से जल्दी इस चोरी की घटना का पता लगाया जा सके और चोरी हुआ सामान भी प्राप्त किया जा सके।लेकिन यहां सवाल यही खड़ा होता है कि अगर पुलिस खुद जल्द से जल्द इस घटना से पर्दा हटाने की बात कर रही है तो देर आखिर हो क्यों रही है।

 

वही दूसरी तरफ पीड़िता इस चोरी से काफी आहत है क्योंकि उसने अपनी भतीजी की शादी के लिए जो गहने और कैश जमा किये थे अब वो उसके पास नही रहा इसलिए वो जल्द से जल्द सख्त कार्रवाई की मांग भी कर रही है जो फिलहाल होती नजर नही आ रही। आपको बता दें कि राजकीय नर्सेज संघ ने भी चोरी की इस घटना पर दुख व नाराज़गी जाहिर की है उन्होंने केजीएमयू प्रशासन को पत्र लिख कर इस मामले पर उनकी तरफ से तहरीर देने की अपील की है साथ ही हॉस्टल में मौजूद तमाम खामियों को तत्काल दूर किये जाने की मांग भी रखी है।


 


Popular posts